Paap Punya (In Hindi) Paap Punya (In Hindi) 点击阅读
  • 评论

Paap Punya (In Hindi)

Paap Punya (In Hindi)

出版日期 / “, 宗教” / 语言—English / 90页
कोई भी काम जिससे दूसरों को आनंद मिले और उनका भला हो, उससे पुण्य बंधता है और जिससे किसीको तकलीफ हो उससे पाप बंधता है| अगर हम अपनी भूलो का पश्चाताप करते है, तो हम पाप बंधनों से छूट सकते है|पाप और पुण्य की सही समझ पाने के लिए पढ़े.. 更多
कोई भी काम जिससे दूसरों को आनंद मिले और उनका भला हो, उससे पुण्य बंधता है और जिससे किसीको तकलीफ हो उससे पाप बंधता है| अगर हम अपनी भूलो का पश्चाताप करते है, तो हम पाप बंधनों से छूट सकते है|पाप और पुण्य की सही समझ पाने के लिए पढ़े.. 更多